निजी चिकित्सालय को सीज करने का विरोध, लामबंद हो निजी चिकित्सकों ने एडीएम को कलेक्टर के नाम सौंपा ज्ञापन

0
95

प्रशासन की एकतरफा कार्यवाही का विरोध, आईएमए ने दर्ज कराई घोर आपत्ति।
सवाई माधोपुर/गंगापुर सिटी@रिपोर्ट चंद्रशेखर शर्मा। जिले के गंगापुर सिटी उपखंड मुख्यालय पर कोरोना महामारी के चलते लागू लोक डाउन (चतुर्थ चरण) की परिस्थितियों में प्रशासन की ओर से एक निजी चिकित्सालय के खिलाफ एकतरफा कार्यवाही करने के विरोध में गुरुवार को सभी निजी चिकित्सालय के डॉक्टर्स ने लामबंद होकर इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) की ओर से जिला कलेक्टर के नाम का ज्ञापन एडीएम नवरत्न कोली को सौंपा।
ज्ञापन में बताया कि 27 मई को नहर रोड़ स्थित निजी चिकित्सालय को प्रशासन के आदेश पर अगली कार्यवाही तक बंद करने का आदेश दिया गया ,जो प्रशासन की एकतरफा एवं गंगापुर की चिकित्सा व्यवस्था पर कुठाराघात है। ज्ञापन में बताया गया है, कि कोरोना संक्रमित महिला ना तो कभी निजी हॉस्पिटल में इलाज कराने आई और ना ही उसने इस चिकित्सालय में किसी तरह का परामर्श लिया। केवल उस चिकित्सालय के लेब असिस्टेंट की सम्पर्क हिस्ट्री के कारण ही इस चिकित्सालय को बंद कर दिया गया। जबकि इस चिकित्सालय को बहुत ही प्रशिक्षित फिजिशियन डॉ. मुकेश बंसल द्वारा संचालित किया जाता है, जो मरीजों का कुशलतापूर्वक उपचार करते हैं। इस चिकित्सालय में गंगापुर एवं आसपास के मरीज गंभीर अवस्था में इलाज कराते हैं। इस चिकित्सालय को इस महामारी के समय में बंद करना गंगापुर की जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ है। इतना ही नहीं प्रशासन की एकतरफा कार्यवाही कोरोना योद्धाओं के मनोबल को हतोत्साहित करने वाली है।
आईएमए ने गंगापुर सिटी प्रशासन की इस एकतरफा अन्यायपूर्ण कार्यवाही की घोर निन्दा की है। साथ ही प्रशासन से मांग की है कि इस चिकित्सालय को तुरन्त प्रभाव से जनता की सेवा के खोला जाए तथा भविष्य में इस तरह की पुनरावृति ना हो। यदि प्रशासन इस मामले को न्यायपूर्ण एवं राज्य सरकार की गाइडलाइन के अनुसार चिकित्सालय को खोलने की अनुमति नहीं देता है तो शहर के अन्य निजी चिकित्सालय अपनी सेवाएं देने में असमर्थ होंगे, जिसके लिए गंगापुर प्रशासन उत्तरदायी होगा।
इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन अध्यक्ष डॉ. राजेन्द्र शास्त्री व सचिव डॉ. मुकेश गर्ग के नेतृत्व में डॉ. महेन्द्र मीना, डॉ. राधेश्याम पाराशर, डॉ. शैल शास्त्री, डॉ. कमला मीना, डॉ. मानव जैन, डॉ. मनोज जैन, डॉ. रवि गुप्ता, डॉ. आईपी जैन, डॉ. रोहित गुप्ता, डॉ. संतोष भण्डारी, डॉ. मुकेश मीना, डॉ. एस. खान, डॉ. सत्यवीर डूडी, डॉ. धीरज, डॉ. अनुराग, डॉ. विवेक रंजन आदि ने एडीएम नवरत्न कोली को ज्ञापन सौंपा।
एडीएम नवरत्न कोली ने कहा कि सरकार की गाइडलाइन के अनुसार कार्यवाही अमल मेंं लाई जाएगी। इस संबंध में एडीएम कोली ने बीसीएमओ को निर्देशित कर दिया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें